जानिए क्या है NRA और CET? एक राष्ट्र एक परीक्षा नीति

19 अगस्त 2020 को भारत सरकार ने प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी यानी नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी के गठन को मंजूरी दे दिया। राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी के गठन के बाद अब रेलवे बैंकिंग और एसएससी के लिए अलग-अलग प्री एग्जाम ना होकर एक ही सेंट्रल एलिजिबिलिटी टेस्ट सीईटी यानी केंद्रीय पात्रता परीक्षा होगा। यहां आपको बता दूं कि NRA यानी नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी परीक्षा लेने वाली एक एजेंसी होगी जो परीक्षा को आयोजित करेगी और जो परीक्षा होगी उसका नाम सेंट्रल एलिजिबिलिटी टेस्ट सीईटी है।

CET प्रारंभिक परीक्षा लेगी जिसे प्री एग्जाम भी कहा जाता है। प्रारंभिक परीक्षा पास करने वालों का अलग-अलग मुख़्य परीक्षा और साक्षात्कार रेलवे बैंकिंग लेगी। NRA 2021 से लागू होगी और साल में दो बार 6-6 महीने पर सीईटी एग्जाम आयोजित करेगी। यह परीक्षा 12 भाषाओं में होगी तथा CET पास करने वालों की वैधता 3 साल तक होगी यानी एक बार CET पास करने पर आप 3 साल तक मुख्य परीक्षा के लिए चयनित है। आप जितना बढ़ जाएं CET दे सकते हैं इसके लिए कोई निर्धारित संख्या नहीं है।

किसान बिल 2020 का सबसे ज्यादा विरोध पंजाब और हरियाणा में ही क्यों ?

दूसरी बात सीईटी परीक्षा तीन स्तर की आयोजित होगी पहली दसवीं दूसरी 12वीं और तीसरी स्नातक स्तर की। स्नातक स्तर की CET पास करने वाले अभ्यर्थी 12वीं और 10वीं स्तर के मुख्य परीक्षा में नहीं जा सकेंगे। यानी जो जिस स्तर के CET को पास करेगा उसी स्तर के मुख्य परीक्षा में जा सकेगा।

Also READ:  राजीव गांधी ने सोनिया से क्यों कहा था, चाहे जो भी हो मैं मारा ही जाऊंगा

अब देखते हैं NRA और CET से क्या फायदा और क्या नुकसान है। परीक्षार्थियों को सबसे बड़ा लाभ यह होगा कि आप फ्री के लिए अलग-अलग परीक्षा भी नहीं देना होगा। प्री एग्जाम के लिए अलग-अलग दूर दराज के क्षेत्रों में जाना नहीं होगा। इससे समय और पैसे दोनों की बचत होगी और अब सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि रेलवे बैंकिंग और एसएससी एग्जाम का सिलेबस अलग नहीं होगा तीनों के प्रारम्भिक परीक्षा का सिलेबस एक ही होगा । अभी के तहत सिर्फ रेलवे और बैंकिंग हैं लेकिन बाद में अन्य परीक्षाओं को भी शामिल किया जाएगाI

Also READ:  राजीव गांधी ने सोनिया से क्यों कहा था, चाहे जो भी हो मैं मारा ही जाऊंगा

जानिए क्या है CBI कैसे करती है CBI काम ?

किसान बिल 2020 (Farm Bill 2020): सरकार के लिए मास्टर स्ट्रोक् किसानों को मंडी खत्म होने का डर

b7701ff05b40a358e2d85827442e358e?s=96&d=mm&r=g
National Tribunehttps://nationaltribune.in
nationaltribune.in was established in 2020. In a short span of time, it became India’s most popular Hindi & English news portal and continues to maintain its reputation.

Related Articles

5 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

FansLike
3,113FollowersFollow
SubscribersSubscribe
- Advertisement -spot_img

Latest Articles